दुनिया के सबसे विनाशकारी भूकंप

GoTvNews
नई दिल्ली। भूकंप से शनिवार दोपहर नेपाल समेत पूरा उत्तर भारत हिल गया। दिल्ली सहित देश के कई हिस्सों में भूकंप के झटकों से लोग दहशत में आ गए। करीब दो मिनट तक भूकंप के झटके महसूस किए जाते रहे। भूकंप का केंद्र नेपाल में पोखरा से 80 किलोमीटर दूर और इसकी तीव्रता 7.5 थी।

    नेपाल में राजधानी काठमांडू से 35 किमी दूर पश्चिम में जमीन के करीब 33 किमी. नीचे इसका केंद्र था। वैसे, तीव्रता के लिहाज से अब तक का सबसे खतरनाक भूकंप चिली में 22 मई 1960 को आया था। रिक्टर स्केल पर 9.5 तीव्रता वाले इस भूकंप की वजह से आई सुनामी से दक्षिणी चिली, हवाई द्वीप, जापान, फिलीपींस, पूर्वी न्यूजीलैंड, दक्षिण-पूर्व ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों में भयानक तबाही मची थी। कैजुअलिटी के लिहाज से दुनिया का सबसे खतरनाक भूकंप चीन में 1556 में आया था, जिसमें 8.30 लाख लोगों की मौत हुई थी।  

ये हैं दुनिया के सबसे विनाशकारी भूकंप

23 जनवरी, 1556 (सांक्सी प्रांत, चीन)
 इतिहास में कैजुअलिटी के लिहाज से अब तक का सबसे खतरनाक भूकंप चीन के सांक्सी प्रांत में 23 जनवरी, 1556 को आया था। रिक्टर स्केल पर 8 तीव्रता वाले इस भूकंप से 520 मील (840 किमी.) एरिया तबाह हो गया था। इसका असर सांक्सी प्रांत की करीब 97 काउंटीज पर पड़ा था। भूकंप की वजह से भूस्खलन होने से करीब 8 लाख 30 हजार लोगों की मौत हुई थी।  
1 सितंबर 1923 (टोक्यो, जापान) जापान की राजधानी टोक्यो में आया ग्रेट कांटो भूकंप। इसकी वजह से 142,800 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।  
15 जनवरी 1934 : (नेपाल, भारत)
नेपाल और बिहार में 8.1 की तीव्रता वाले भूकंप में 10 हजार 700 लोगों की मौत हुई थी.  
31 मई, 1935 (क्वेटा, पाकिस्तान)
क्वेटा और उसके आसपास के इलाक़ों में आए ज़बरदस्त भूकंप में लगभग 35 हज़ार लोगों की जानें गईं।  
28 जुलाई 1976 (तांगशान, चीन)
चीन का तांगशान शहर 7.8 तीव्रता वाले भूकंप की वजह से मिट्टी में मिल गया था। इसमें 5 लाख से अधिक लोग मारे गए थे।  
22 मई, 1960 (वाल्डिविया, चिली)
चिली के वाल्डिविया में रिक्टर स्केल पर 9.5 तीव्रता वाले इस भूकंप ने भारी तबाही मचाई थी। कहते हैं कि इस भूकंप की ताकत 1 हजार एटम बम के बराबर थी। इसका असर वाल्डिविया से लेकर हवाई द्वीप तक था। इसमें 6 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी, जबकि लाखों लोग बेघर हो गए थे।  
20 अगस्त 1988 : (नेपाल, भारत)
नेपाल में 6.8 की तीव्रता वाले भूकंप में 721 लोगों की नेपाल में और पडोसी भारतीय राज्य बिहार में 277 लोगों की मौत.  
21 जून 1990 (गिलान, ईरान)
ईरान के उत्तरी राज्य गिलान में आए भूकंप ने 40 हज़ार से भी अधिक लोगों की जान ले ली थी।
17 अगस्त 1999 (इमिट व इस्तांबुल, तुर्की)
तुर्की के इमिट और इंस्ताबुल शहरों में रिक्टर स्केल पर 7.4 तीव्रता का भूकंप आया. इस भूकंप की वजह से 17 हज़ार से अधिक लोग मारे गए और हज़ारों अन्य घायल हुए। 30 सितम्बर 1993 :(भारत)
महाराष्ट्र में 6.3 की तीव्रता के भूकंप में 7601 की मौत.  
20 अक्तूबर 1991 :(भारत)
भारत के उत्तरप्रदेश में 6.6 की तीव्रता वाले भूकंप में 768 लोगों की मौत.  
26 जनवरी 2001 :(भारत)
भारत के गुजरात में 7.7 की तीव्रता वाले भूकंप में 25 हजार लोगों की मौत और एक लाख 66 हजार जख्मी.  
26 दिसम्बर 2003 :(ईरान)
ईरान के शहर बाम में 6.7 की तीव्रता के भूकंप में कम से कम 31 हजार 884 लोगों की मौत और 18 हजार जख्मी.  
26 दिसंबर, 2004, (श्रीलंका, फिलीपींस व दक्षिणी भारत)
भूकंप के कारण पैदा हुईं सुनामी लहरों ने एशिया में 2 लाख 30 हजार लोगों की जान ले ली थी। 8.9 तीव्रता वाले इस भूकंप के कारण लाखों लोग बेघर हो गए थे।
28 मार्च 2005 :(इंडोनेशिया)
इंडोनेशिया के न्यास द्वीप पर भूकंप से 900 लोगों की मौत.  
8 अक्तूबर, 2005 (पाकिस्तान)
पाकिस्तान में 7.6 तीव्रता वाला भीषण भूकंप आया, जिसमें करीब 75 हज़ार लोग मारे गए। करीब 35 लाख लोग बेघर हुए थे.  
27 मई 2006 :(इंडोनेशिया)
इंडोनेशिया के योगयाकार्ता क्षेत्र में आए शक्तिशाली भूकंप में 6000 लोगों की मौत और 15 लाख से ज्यादा लोग बेघर.
12 मई 2008 :(चीन)
चीन के दक्षिण पश्चिम प्रांत सिचुआन में 8.0 की तीव्रता वाले भूकंप से 87 हजार से ज्यादा लोगों की मौत या लापता.
12 जनवरी 2010 :(हैती)
हैती में 7.0 की तीव्रता वाले भूकंप से ढाई लाख से तीन लाख के बीच लोगों की मौत.
14 अप्रैल 2010 :(चीन)
उत्तर पश्चिम चीन के क्विंघाई प्रांत के युशु काउंटी में 6.9 की तीव्रता वाले भूकंप में तीन हजार लोगों की मौत और कई लापता.  
11 मार्च 2011 :(जापान) 
जापान के उत्तर पूर्वी तट पर समुद्र के नीचे 9.0 की तीव्रता के भूकंप आने के बाद आई सुनामी से करीब 18 हजार 900 लोगों की मौत. फुकुशिमा डाईची परमाणु संयंत्र में संकट पैदा हुआ.  
23 अक्तूबर 2011 :(पूर्वी तुर्की)
पूर्वी तुर्की में 7.2 की तीव्रता वाले भूकंप से तबाही. 600 से ज्यादा लोगों की मौत और कम से कम 4150 जख्मी.  
11 अगस्त 2012 :(ईरान)
ईरान के शहर तबरीज में 6.3 और 6.4 की तीव्रता वाले दो भूकंपों से 306 लोगों की मौत और तीन हजार से ज्यादा लोग जख्मी.
Tags: , , , , , , , , , , ,

0 comments

Leave a Reply