मुंबई ब्लास्ट : संजय दत्त को पांच साल की कैद

साढे तीन साल ओर बिताने होंगे जेल में
GoTvNews
नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने वर्ष 1993 में मुंबई में हुए सीरियल बम धमाकों से जुड़े गैरकानूनी तरीके से हथियार रखने के एक मामले में फिल्मस्टार संजय दत्त को दोषी करार देते हुए उनकी सज़ा को घटाकर पांच साल कर दिया गया है। कोर्ट ने कहा कि संजय दत्त के अपराध की प्रकृति और हालात इतने गंभीर हैं कि उन्हें नहीं छोड़ा जा सकता। संजय दत्त फिलहाल जमानत पर बाहर हैं, लेकिन अब शीर्ष अदालत द्वारा सज़ा सुनाए जाने के बाद उन्हें चार सप्ताह के भीतर आत्मसमर्पण करना होगा, और फिर साढ़े तीन साल जेल में बिताने होंगे। इसके अलावा कोर्ट ने याकूब अब्दुल रज़्ज़ाक मेमन को मुंबई सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड बताते हुए उसकी फांसी की सज़ा को बरकरार रखा है, जबकि टाडा कोर्ट द्वारा फांसी की सज़ा पाए शेष 10 अभियुक्तों की सज़ा को घटाकर उम्रकैद कर दिया गया है। इनके अलावा कोर्ट ने उम्रकैद पाए 22 में से दो लोगों को बरी कर दिया है, जबकि शेष 20 की सज़ा को बरकरार रखा है। कोर्ट ने यह भी कहा कि मुंबई में हुए सीरियल धमाकों की साज़िश और प्रबंधन अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम ने किया।
Tags: , , , ,

0 comments

Leave a Reply