अपनों ने ही उड़ाया मोदी के उपवास का मजाक

अहमदाबाद, गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के तीन दिन के उपवास को लेकर राजनीति गरमा गई है। पक्ष और विरोध में बयानबाजी दौर जारी है। कांग्रेस इसका विरोध कर रही है तो एनडीए के नेता भी मोदी का मजाक उड़ा रहे हैं। जिन्हौंने मोदी का पहले समर्थन किया अब वो भी सफाई दे रहे हैं।


शरद ने उड़ाया मजाक
जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव ने मोदी के उपवास का मजाक उड़ाया है। शरद ने कहा कि इस देश में 80 फीसदी लोग 20 रुपए रोज कमाते हैं और वो रोज उपवास करते हैं।
देश की आबादी का एक बड़ा हिस्सा जो अमानवीय हालात में जिंदगी गुजारता है, उसे तो रोज उपवास पर रहना होता है। - शरद यादव
उन्होंने कहा आजकल उपवास का फैशन चल रहा है। उन्होंने कहा कि 'देश की आबादी का एक बड़ा हिस्सा जो अमानवीय हालात में जिंदगी गुजारता है, उसे तो रोज उपवास पर रहना होता है। मगर उनकी सुध कोई नहीं लेता। कुछ खास उपवासों की ही चर्चा होती है।'

पहले समर्थन फिर सफाई
मुख्यमंत्री मोदी के उपवास का समर्थन करने वाली तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयाललिता ने भी अपनी सफाई दी है। एआईएडीएमके प्रमुख जयाललिता ने अपने दो प्रतिनिधि भेजे मोदी के प्रति समर्थन जताने पर कहा है कि उन्होंने तो सद्भाव, भाईचारे और शांति का समर्थन किया है।

बादल ने किया समर्थन
अकाली दल नेता और पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल मोदी के उपवास शुरू करने पर कार्यक्रम में शामिल हुए।
Tags: , , , , ,

0 comments

Leave a Reply