राहुल ने तो अपनी सरकार पर ही निशाना साध दिया

पुणे जिले के मावल में पुलिस गोलीबारी में मारे गए 3 किसानों की घटना पर कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने महाराष्ट्र में अपनी पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। राहुल गांधी ने पुलिस फायरिंग को 'गलत' करार दिया।

राहुल गांधी ने पुलिस फायरिंग में मारे गए किसानों के परिवार वालों और इस घटना में घायल हुए लोगों से मुलाकात की। राहुल घटना में मारे गए श्यामराव टोपे, मोरेश्वर साठे और कांताबाई ठाकर के परिवार वालों से मिले। कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी एयरपोर्ट से गुरुवार तड़के सीधे मावल समेत अन्य गांवों का दौरा करने अचानक पहुंचे। उनकी यात्रा का कार्यक्रम पहले से निर्धारित नहीं था।

यूथ कांग्रेस द्वारा जारी की गई विज्ञप्ति के अनुसार, किसानों की मौत की निंदा करते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'जो भी हुआ वह गलत है।'

गौरतलब है कि पुणे में 9 अगस्त को पुलिस की फायरिंग में तीन किसान मारे गए थे, जबकि कई अन्य घायल हुए थे। ये किसान पाइपलाइन प्रॉजेक्ट के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे।

राहुल मारे गए लोगों के परिवार वालों से मुलाकात के बाद एक अस्पताल गए जहां गोलीबारी की घटना में घायल हुए लोगों का इलाज चल रहा है। पुणे के एसपी (ग्रामीण) संदीप कार्णिक ने राहुल की यात्रा की न तो पुष्टि की और न ही उसका खंडन किया।

पुणे नगर कांग्रेस अध्यक्ष अभय छाजड़ ने कहा कि उन्हें राहुल के कार्यक्रम के बारे में जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि शहर का कांग्रेस का कोई भी नेता उनके साथ नहीं था। राहुल की यात्रा विपक्षी शिवसेना-बीजेपी गठबंधन द्वारा कांग्रेस महासचिव की किसानों केप रिजनों से नहीं मिलने को लेकर आलोचना किए जाने के बाद हुई है।
Tags: , , ,

0 comments

Leave a Reply