कम से कम एक दिन तो रिश्वत छोड़ दो मंत्रीजी


पणजी, अन्ना हजारे के आंदोलन से प्रभावित गोवा के सामाजिक संगठनों ने राज्य सरकार के मंत्रियों से एक अनोखी गुजारिश की है।

समूह ने मंत्रियों से कहा है कि अगर वो करप्शन से बाज तो नहीं आ सकते हैं, तो अन्ना हजारे के समर्थन में कम से कम एक दिन की रिश्वत तो छोड़ दें।

दरअसल, राज्य में हुए घोटालों से परेशान और अन्ना हजारे की भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई से प्रभावित सामाजिक संगठन 'विलेज ग्रुप्स ऑफ गोवा' (VGG) ने राज्य सरकार के मंत्रियों से ये अनुरोध किया।

VGG के संयोजक जॉन पेरेरा ने कहा, 'हमने गोवा के सभी कैबिनेट मंत्रियों से यह गुजारिश की है कि अगर वे हमेशा के लिए भ्रष्टाचार को नहीं त्याग सकते, तो अन्ना के समर्थन में कम से कम एक दिन के लिए 'रिश्वत मुक्त दिवस' मना ही सकते हैं।'

उन्होंने कहा, 'हम सभी मंत्रियों से कह रहे हैं कि वे एक दिन के लिए न तो कोई रिश्वत लें और न कोई ऐसी डील करें जिसमें रिश्वत की बात हो।' उनका कहना है कि वीजीजी के सदस्य शांतिपूर्ण ढंग से मंत्रियों के घर पर जाएंगे और उन्हें कम से कम एक दिन रिश्वत न लेने के लिए शुक्रिया कहेंगे।

गौरतलब है कि गोवा में पिछले कुछ वर्षों में लगातार कई घोटाले सामने आए हैं, जिनमें खनन, नशीले पदार्थ, जाली करंसी, टैक्स और मिड डे मील से सम्बंधित बड़े स्तर पर करप्शन हुआ।
Tags: , ,

0 comments

Leave a Reply