मोबाइल ग्राहकों के लिए आ गई एक और खुशखबरी!


अक्सर ऐसा देखा जाता है कि मोबाइल कंपनियां, बिना ग्राहकों की अनुमति के ही कॉलर ट्यून या अन्य तरह की वैल्यू एडेड सेवाओं चालू कर देती हैं। लेकिन अब टेलीकॉम कंपनियों के लिए ऐसा करना बेहद मुश्किल हो जाएगा। क्योंकि टेलीकॉम रेग्युलेटर ट्राई ने यह साफ कर दिया है कि किसी भी तरह के वैल्यू एडेड सर्विस को एक्टिवेट करने के 24 घंटे के भीतर अगर टेलीकॉम कंपनी ग्राहक से अनुमति नहीं लेती है तो उस सर्विस के एवज में वसूले गए पैसे ग्राहकों के लौटाने होंगे।

आपको बता दें कि ट्राई को लगातार ग्राहकों से यह शिकायत मिल रही थी कि टेलीकॉम कंपनियां बिना उनकी इजाजत लिए ही वैल्यू एडेड सेवाओं को शुरू कर देती हैं और अकाउंट के पैसे काट लिए जाते हैं। 1 अप्रैल 2010 से लेकर 31 मार्च 2011 के बीच ट्राई को 672 लोगों ने ऐसी शिकायतें भेजी हैं जिसके बाद ट्राई ने यह नया निमय बनाया है।
Tags: , ,

0 comments

Leave a Reply