ICU में सोनिया गांधी, रजिस्‍टर में नाम दर्ज नहीं

नई दिल्‍ली. कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी की सर्जरी 4 अगस्‍त को अमेरिका में हुई और वह अभी आईसीयू में हैं। उनकी सर्जरी सफल रही। राहुल व प्रियंका गांधी के साथ रॉबर्ट वॉड्रा भी उनके पास हैं। कांग्रेस ने आज एक प्रेस रिलीज जारी कर यह जानकारी दी और बताया कि सोनिया की सर्जरी उनका निजी मामला है।

सोनिया की बीमारी और इलाज को लेकर सारी जानकारी गुप्‍त रखी गई है। यहां तक कि दिल्‍ली में सरकार के तमाम मंत्रियों को भी इसकी जानकारी तभी हुई, जब कांग्रेस महासचिव जनार्दन द्विवेदी ने गुरुवार को मीडिया ब्रीफिंग के जरिए बताया कि सोनिया इलाज के लिए विदेश गई हैं।

यह गोपनीयता देश ही नहीं, अमेरिका तक में बरती जा रही है। 'टेलीग्राफ' ने अपने सूत्रों के हवाले से यहां तक खबर दी है कि न्‍यूयॉर्क के जिस अस्‍पताल में सोनिया का इलाज चल रहा है, वहां के रजिस्‍टर में उनका नाम तक दर्ज नहीं कराया गया है। उनकी सर्जरी और उनके इलाज का पूरा इंतजाम कांग्रेस अध्यक्ष के करीबी पुलक चटर्जी कर रहे हैं। पुलक वर्ल्ड बैंक मुख्यालय में भारत के कार्यकारी निदेशक हैं।

चटर्जी सोमवार को ही वाशिंगटन से न्‍यूयॉक पहुंच गए थे। उन्‍होंने वर्ल्ड बैंक से 10 अगस्त तक की छुट्टी ले रखी है। उनके सहयोगी रूपेश दलाल भी इस रविवार तक छुट्टी पर हैं। इस तरह की खबरें भी हैं कि सोनिया स्‍वास्‍थ्‍य लाभ के लिए वील कॉर्नेल मेडिकल सेंटर या कोलंबिया यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर में भी दाखिल हो सकती हैं। यह दुनिया के आलीशान व नामी अस्‍पतालों में से एक है।

कोलंबिया यूनिवर्सिटी सेंटर में पांच सितारा होटल जैसी सुविधाएं हैं। सर्जरी के बाद स्वास्थ्य लाभ के दौरान यह सेंटर ऐसे आलीशान कमरे मुहैया कराता है जहां से हडसन नदी का नजारा दिखता है। यहां तीमारदारों के लिए विजिटर रूम की सुविधा है जो आम तौर पर अन्य अस्पतालों में नहीं होती है।
दूसरी तरफ, वॉशिंगटन और न्यूयॉर्क में मौजूद भारतीय दूतावास के केंद्रों को इस मामले से अलग रखा गया है। कहा जा रहा है कि इससे साफ है कि सोनिया गांधी और उनका परिवार भारत सरकार को इस मामले में शामिल नहीं करना चाहता था। यही वजह है कि इस साल अक्टूबर में प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह प्रमुख सचिव बनने जा रहे पुलक चटर्जी को यह जिम्मेदारी सौंपी गई। वैसे, सोनिया गांधी के इलाज पर आज कांग्रेस पार्टी की तरफ से आधिकारिक बयान दिया जाएगा।
यहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी ने गुरुवार को बताया था कि सोनिया गांधी अगले दो-तीन सप्ताह तक संसद की कार्यवाही में शामिल नहीं हो सकेंगी। उन्‍होंने बताया कि वह इलाज के लिए विदेश गई हैं। उन्‍होंने यह नहीं बताया कि वह कहां और किस बीमारी का इलाज करा रही हैं। उन्‍होंने जानकारी दी कि कांग्रेस अध्‍यक्ष ने इलाज के लिए जाने से पहले अपनी अनुपस्थिति में पार्टी का कामकाज देखने के लिए चार सदस्यीय दल गठित कर दिया है। इसमें उनके बेटे राहुल गांधी भी शामिल हैं। राहुल के अलावा द्विवेदी, रक्षा मंत्री ए.के. एंटनी और गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल इस दल में शामिल हैं।
मोदी ने शुभकामना दी
गुजरात के मुख्‍यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोनिया गांधी के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। यूपी की सीएम मायावती और मध्‍य प्रदेश के राज्‍यपाल रामेश्‍वर ठाकुर ने भी सोनिया के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।
Tags:

0 comments

Leave a Reply